पृथ्वी दिवस पर कुछ पंक्तियाँ - आर के रस्तोगी



पृथ्वी दिवस पर कुछ पंक्तियाँ - आर के रस्तोगी

आर के रस्तोगी 

धरती है माँ हमारी,जो करती सबका ध्यान
उससे से बडा कोई नहीं,करे उसका सम्मान

धरती माँ करती रहती,सबका है उपकार 
इसको बचाने के लिये हम भी करे उपचार

धरती माँ भले एक है,उसके नाम है अनेक
भू,धरा,धरणी वसुधा पृथ्वी उनमे से एक

धरती माँ सबको पालती,इसके बड़े प्रमाण
वह सब कुछ दे रही,देवे उसी में से हम दान

मत फैलाओ प्रदुषण,माँ हो जायेगी नाराज 
वर्ना कोरोना  वायरस,करेगा हम पर राज

धरती माँ का चुका नहीं सकते हम ऋण
चाहे सौ जन्म लेलो हो सकते नहीं उऋण 


आर के रस्तोगी 
गुरुग्राम ,

Post a Comment

0 Comments

वर्क फ्रॉम होम की वर्क-संस्कृति का बढ़ता दायरा