आज के हालात पर नजर - आर के रस्तोगी



आज के हालात पर नजर - आर के रस्तोगी

आर के रस्तोगी

बिगड़े हालत तो शायद सुधर जायेगे |
पर कुछ लोग तो,नजरो से उतर जायेगे ||

किसीको क्या पता,भविष्य में क्या हो जायेगा |
अगर हालात नहीं सुधरे तो हम किधर जायेगे ||

अच्छा है आज घर में लोग सब एक साथ है |
लोक डाउन खुला तो,लोग फिर किधर जायेगे ||

मानते रहे कहना,लोग अनुशासन में आ जायेगे |
ऐसा चलता रहा तो  लोग सुधर जायेगे ||

अनुशासन नहीं रहा तो देश का क्या हाल होगा |
ऐसे हालात में लोग इधर उधर बिखर जायेगे ||

कहता है रस्तोगी समय है एक सूत्र में रहने का |
अगर सूत्र टूट गया तो लोग बिखर जायेगे ||

आर के रस्तोगी
गुरुग्राम

Post a Comment

0 Comments

 विश्व के लिए खतरा है चीन