अनन्तराम चौबे 'अनन्त' - नववर्ष विक्रम संवत



नववर्ष विक्रम संवत


अनन्तराम चौबे 'अनन्त'

अपनी संस्कृति पर मुझे गर्व है ।
फिर आया है हमारा नववर्ष है ।

चैत शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा है ।
25 मार्च दिन बुधवार का शुभ है ।

भारतीय विक्रम संवत
2077 वां साल आया है ।
भारतीय संस्कृति का
नया साल फ़िर आया है ।

नई फसल का आगमन हुआ है ।
हर किसान कामन देखो हर्षाया है ।

गेहूं चना मटर मसूर
तेवड़ा और अरहर है ।
नई फसलों के आगमन से
अनाज से भरा भंडारन है ।

खेतों और खलियानों में
फसलों का अंबार लगा है ।
नववर्ष का हुआ आगमन
महीना चैत का आ गया है ।

चैत नवरात्रि आज शुरू है
मां जगदम्बे को मेरा नमन है ।
मां के चरणों में शीश नवाकर
स्वागत वंदन है अभिनंदन है ।

अनन्तराम चौबे 'अनन्त'
जबलपुर (म. प्र.)
2404/
9770499027

Post a Comment

0 Comments

विश्व होम्योपैथी दिवस : चिकित्सा की सबसे बेहतरीन एवं प्राचीन पद्धति