अमित डोगरा की कविता - नफ़रत


नफ़रत (कविता)

अमित डोगरा


नफरत ने जीना
सिखा दिया,
नफरत ने जिंदगी पथ पर
चलना सिखा दिया,

नफरत ने सही गलत का
अंतर करना सिखा दिया,
नफरत ने स्वय से प्यार
करना सिखा दिया,   
               

नफरत ने मंजिल को
पाने के लिए
आगे बढ़ना सिखा दिया,
नफरत ने रिश्तो को
निभाना सिखा दिया,  

नफरत ने दिव्य ज्ञान को
ग्रहण करना सिखा दिया 
नफरत ने ईश्वर के होने का
एहसास सिखा दिया।



कवि
अमित डोगरा
पी एच.डी- शोधकर्ता ,
गुरु नानक देव विश्वविद्यालय अमृतसर,
9878266885 ,amitdogra101@gmail.com

Post a Comment

0 Comments

 विश्व के लिए खतरा है चीन