शेखपुरा सोहाना में वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता


शेखपुरा सोहाना में वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता
शेखपुरा सोहाना में वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता

 शेखपुरा सोहाना : राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय शेखपुरा सुहाना में दो दिवसीय वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता का आज समापन हो गया. दिनांक 23 दिसंबर से शुरू हुई इन प्रतियोगिताओं में विद्यालय के अब्दुल कलाम सदन, विवेकानंद सदन,शिवाजी सदन तथा लक्ष्मीबाई सदन के विद्यार्थियों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया. आज कार्यक्रम के मुख्य अतिथि खंड शिक्षा अधिकारी करनाल श्री चंद्रेश विज उपस्थित रहे. खंड शिक्षा अधिकारी ने अपने संबोधन में कहा कि खेलों के माध्यम से विद्यार्थियों का सर्वांगीण विकास संभव होता है. क्योंकि एक स्वस्थ शरीर में ही एक स्वस्थ मस्तिष्क का निवास होता है

इन प्रतियोगिताओं में विद्यालय की प्रधानाचार्य श्रीमती पूनम चौधरी ने विद्यालय में खंड शिक्षा अधिकारी श्री चंद्रेश विज, गांव शेखपुरा के सरपंच श्री हरि सिंह, गांव सोहाना के सरपंच श्री जगबीर भी विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित रहे. मंच संचालन श्री देवेंद्र रोहिल्ला तथा दुलीचंद रमन ने किया. सरपंच श्री हरि सिंह ने कहा कि वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिताओं के माध्यम से विद्यार्थियों को अपनी खेल प्रतिभा को निखारने का मौका मिलता है तथा आज की प्रतियोगिताओं में जिन विद्यार्थियों ने सफलता प्राप्त की है उन्हें आगे भी पढ़ाई के साथ साथ खेलों के माध्यम से  भी सफलता प्राप्त करने का प्रयास करना चाहिए.

 इन प्रतियोगिताओं में प्रमोद कुमार-डीपीई के मार्गदर्शन में विद्यार्थियों ने 200 मीटर दौड़, 400 मीटर दौड़, 800 मीटर दौड़, रिले रेस, रस्साकशी, स्लो साइकिल रेस लेमन स्पून रेस, ऊंची कूद, लंबी कूद तथा कई अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हुए. सांस्कृतिक कार्यक्रमों का संचालन  श्रीमती राजरानी के दिशा निर्देशन में हुआ. इन प्रतियोगिताओं में विद्यार्थियों के साथ-साथ विद्यार्थियों के अभिभावकों तथा अध्यापकों ने भी बढ़ चढ़कर भाग लिया. 

इस अवसर पर स्टाफ सदस्य बलवान, मनोज, सुरजीत मान, राजरानी, जतिंदर  ढिलो, अशोक राणा, सुमन, रेखा ,सुषमा, सुरेंद्र सिंह, हवा सिंह ,कल्पना ,अमरजीत ,सुशीला,ज्योतिआदि स्टाफ सदस्य उपस्थित रहे. गांव शेखपुरा सोहाना सेओमप्रकाश ,अमर सिंह, ब्लॉक समिति सदस्य-गोविंदकंवरपाल, श्यामलाल, प्रेम, राजकुमार तथा बड़ी संख्या में शेखपुरा सोहाना गांव से विद्यार्थियों के अभिभावक और महिलाएं भी उपस्थित रहे.

Post a Comment

0 Comments

चीन-भारत संघर्ष के तात्कालिन कारण